छेड़खानी का विरोध करने पर पड़ोसी ने किशोरी को जिंदा जलाया, हालत गंभीर

छेड़खानी का विरोध करने पर पड़ोसी ने किशोरी को जिंदा जलाया, हालत गंभीर

छेड़खानी का विरोध करने पर पड़ोसी ने किशोरी को जिंदा जलाया, हालत गंभीर

बलिया : उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में छेड़छाड़ का विरोध करने पर एक किशोरी को जिन्दा जलाकर मारने के प्रयास किया गया. काफी हद तक झुलसी किशोरी को वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीँ बेटी को बचाने के प्रयास में पिता भी आग में झुलस गए. घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने इस प्रकरण में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है.

शुक्रवार देर रात 16 वर्षीय किशोरी छत पर सो रही थी. वह करीब तीन बजे एकाएक जोर-जोर से चिल्लाने लगी. आवाज सुनकर पहुंचे परिवार के लोगों की जब नजर पड़ी तो वह लड़की आग से झुलसकर छटपटा रही थी. घरवालों ने आग बुझाकर किशोरी को नीचे उतारा. इस दौरान लड़की के पिता का हाथ भी झुलस गया. इसके बाद गांव-घर के लोग उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे. सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद किशोरी को वाराणसी रेफर कर दिया. पीडि़ता की हालत नाजुक है. वह बीएचयू के बर्न वार्ड में भर्ती है. उसके शरीर में इंफेक्शन फैल चुका है.

लड़की के पिता ने पुलिस को दी तहरीर में पड़ोस के ही युवक 21 वर्षीय कृष्णा गुप्ता पर बेटी के साथ छेडख़ानी करने का अरोप लगाया है. उनका उसका कहना है कि रात वह मेरे छत पर पहुंचा और बेटी के उपर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दिया. एसपी, देवेन्द्र नाथ ने बताया कि दुबहड़ थाना क्षेत्र के एक गांव में लड़की के जलने की सूचना प्राप्त हुई. बहर थाना एसएचओ अनिल चंद्र तिवारी ने बताया कि लड़की के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता, अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम और पॉक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *