Nag Panchami 2021: आज भूलकर भी न करें ये कार्य, मिलेंगे अशुभ संकेत

धर्म डेस्क। सावन के इस पावन माह में देश आज नागपंचमी मना रहा है। हिंदु धर्म में पौराणिक काल से ही सांपों को देवता के रूप में पूजा जाता है। वहीं नागपंचमी के दिन नाग देवता की पूजा का खास महत्व है। सांपों को भगवान शिव का आभूषण माना जाता है। नागपंचमी के दिन पूरे विधि विधान से पूजा करने से विशेष लाभ प्राप्त होता है। लेकिन इस दिन ऐसे कई कार्य है जिनसे हमें बचना चाहिए। आइए जानते है नागपंचमी में किन चीजों से हमें परहेज करना चाहिए।

भूमि की खुदाई से बचें

नाग पंचमी के दिन भूमि की खुदाई करना या खेत में हल चलाना अशुभ माना जाता है। दरअसल, नागों को पाताल लोक का स्वामी माना जाता है। सांप भूमि में रहते हैं और खेतों की रक्षा करते हैं। इसलिए इस दिन भूमि की खुदाई करने से मना किया जाता है।

यह भी पढ़ें-Sawan 2021 : जानें शिवलिंग का महत्व और पूजा से होने वाला लाभ

जीवित सांप की पूजा न करें

नागपंचमी के दिन कभी भी जीवित सांप की पूजा नहीं करनी चाहिए। इसके बजाए पूरी श्रद्धा से नाग देवता के प्रतिमा की पूजा करनी चाहिए। नागदेव की तस्वीर, मिट्टी या धातु से बनी प्रतिमा की भी पूजा की जा सकती है।

मांस और शराब से दूरी बनाए

नागपंचमी के दिन मांस और शराब का भी सख्ती से परहेज करना चाहिए। इस दिन भगवान शिव के मंत्रों का जाप करने से लाभ मिलता है। नागपंचमी के दिन इस बात का ध्यान रखें कि शिवलिंग या नाग देव को दूध पीतल के लोटे से चढ़ाएं। जबकि जल चढ़ाने के लिए तांबे के लोटे का इस्तेमाल करें।

यह भी पढ़ें- Sawan 2021 : सपने में दिखे ये चीजें तो समझ लें, बरसने वाली है भोलेनाथ की कृपा

मान्यता है कि नागपंचमी के दिन सर्पों को दूध से स्नान कराने और इनके पूजन से अक्षय-पुण्य की प्राप्ति होती है। इस दिन सपेरों को विशेष रूप से दान-दक्षिणा देना शुभ माना जाता है। कई घरों में प्रवेश द्वार पर नाग चित्र बनाने की भी परम्परा है। मान्यता है कि नागदेव की कृपा से वो घर हमेशा सुरक्षित रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *