लखनऊ के सरकारी अस्पतालों में दवाओं का संकट, जानें कहां-कहां है दिक्कत

लखनऊ। लखनऊ के सरकारी अस्पतालों में दवाओं का संकट बढ़ता जा रहा है। अस्पतालों में दवाइयों की कमी के कारण लोगों को बाहर से महंगी दवाइयां खरीदनी पढ़ रही है। यह हाल बलरामपुर अस्पताल ,सिविल अस्पताल ,लोक बंधु , बीआरडी महानगर सहित कई बड़े अस्पतालों का है। अस्पताल प्रभारियों का कहना है कि ड्रग कॉरपोरेशन से पर्याप्त मात्रा में दवाएं न मिलने से कुछ संकट है। दवाओं की मांग का पत्र भेजा गया है। जल्द ही राहत मिल जाएगी। दरअसल, कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार कम होने के बाद ओपीडी सेवाएं शुरू हो गई है। ऐसे में मरीजों की संख्या बढ़ गई है। जिस कराण दवाइयों का संकट आ गया है। दमा रोगियों के लिए इनहेलर तक का संकट है। वहीं, कई एंटीबायोटिक, बीपी, कार्डियक, मनोरोग व यूरो संबंधी दवाओं का भी टोटा है।

दरअसल, नगरीय स्वास्थ्य केंद्रों में पोर्टल लोड नहीं हुए हैं। केंद्रों में छह माह से एंटीबॉयोटिक, विटामिन, कैल्शियम समेत अन्य सामान्य दवाओं का टोटा है। क्योंकि ड्रग कॉरपोरेशन के पोर्टल पर इन केंद्रों को अपलोड नहीं किया गया है। जबकि पहले सीएमओ के जरिए यहां दवाएं भेजी जाती थीं। केंद्रों के प्रभारियों का कहना है कि दवाओं की डिमांड के साथ रिमांइडर भी भेजा जा रहा है, मगर दवाएं नहीं मिल पा रही हैं। सबसे ज्यादा परेशानी महिला मरीजों को हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *