किसान की बेटी ने UPSC परीक्षा की पास, जानें उनके संघर्ष की कहानी

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले की बेटी काजल ने यूपीएससी परीक्षा की पास की है। काजल सिंह ने 202 रैंक पाकर अपने गांव और जिले का नाम देश भर में रोशन किया है। वहीं, काजल की इस सफलता पर घर पहुंचकर लोग उन्हें बधाई दे रहे है। काजल ने यूपीएससी परीक्षा पास करने का श्रेय अपने माता पिता और दादा दादी को दिया है।

बिजनौर जिले के हीमपुर थाना इलाके के गांव फतेहपुर कलां गांव के रहने वाले देवेंद्र सिंह की बेटी काजल सिंह ने अपना ही नहीं बल्कि अपने माता पिता दादा दादी का नाम रोशन कर दिया है। यूपीएससी में परीक्षा पास कर बिजनौर जिले की बेटी काजल सिंह ने 202 रैंक प्राप्त की है । जिसके चलते काजल सिंह का आईपीएस बनना लगभग तय है।

मीडिया को काजल सिंह ने अपने अनुभव और संघर्ष की कहानी बताई। काजल सिंह ने बिजनौर के सेंटमैरी स्कूल से कक्षा 4 तक पढ़ाई की और उसके बाद काजल ने अपना जिला छोड़ राजस्थान के वनस्थली से पढ़ाई पूरी की है। कुछ समय कोटा में यूपीएससी की कोचिंग ली और उसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की डिग्री ली । साल 2017 में काजल ने यूपीएससी की दोबारा तैयारी की और साल 2020 में आये PCS की परीक्षा में 36 वी रैंक प्राप्त कर डिप्टी कलेक्टर बनी । लेकिन काजल का लक्ष्य अभी पूरा नही हुआ था काजल ने फिर तैयारी शुरू की और यूपीएससी 2020 में कल ही आये परीक्षा परिणाम में काजल ने 202 वी रैंक पाई और सीधे IPS पर बन गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *