हिंदू रक्षा दल के पिंकी चौधरी ने ली JNU हिंसा की जिम्मेदारी

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जेएनयू) में 5 जनवरी को हुई हिंसा को लेकर हिंदू रक्षा दल ने दावा किया है कि जेएनयू में जो हिंसा हुई है वह उनके कार्यकर्ताओं ने की है। अब इस दावे पर दिल्ली पुलिस ने जांच भी शुरू कर दी है।

हिंदू रक्षा दल के प्रमुख पिंकी चौधरी ने कहा कि हमारे धर्म के खिलाफ इतना गलत बोलना इनका सही नहीं है। जेएनयू लगातार देशविरोधी हरकतों का अड्डा बनता जा रहा है, हम इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं। जेएनयू में जो हिंसा हुई है हम उसकी पूरी जिम्मेदारी लेते हैं। मैं कहना चाहता हूं कि हमला करने वाले हमारे कार्यकर्ता थे।

दिल्‍ली पुलिस करेगी दावे की जांच

हिंदू रक्षा दल के प्रमुख द्वारा किए गए इस दावे पर अब दिल्ली पुलिस एक्टिव हो गई है। पुलिस का कहना है कि उन्होंने इस मामले में संज्ञान लिया है और हर तरीके से इस दावे की जांच की जाएगी। इसके अलावा दिल्ली पुलिस की ओर से हिंसा की सीसीटीवी फुटेज भी जांची जा रही है। पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज के जरिए नकाबपोश लोगों की तलाश हो रही है, इनकी पहचान कर कड़ा एक्शन लिया जाएगा।