Saturday , January 22 2022

राजनयिक स्तर की वार्ता समाप्त, सीमा विवाद के बाद पहली बार नेपाली PM का फोन

काठमांडु : भारत और नेपाल के बीच जारी तनातनी के बीच सोमवार को राजनयिक वार्ता समाप्त हो गई है. काठमांडु में नेपाल के विदेश सचिव शंकर दास बैरागी और भारतीय राजनयिक विनय ख्वात्रा के बीच वार्ता को संपन्न किया गया. इस दौरान सीमा विवाद को छोड़कर कई मुद्दों पर द्विपक्षीय चर्चा की गई.

विकास परियोजनाओं पर हुई बातचीत

आर्थिक और विकास सहयोग परियोजनाओं को लेकर दुसरे चरण की इस मीटिंग में दोनों पक्षों ने सहमति जताई. मीटिंग के दौरान कई विकास परियोजनाओं पर बातचीत हुई, जिसमें नेपाल में आए भीषण भूकंप के बाद से 46,301 भूकंप प्रभावित घरों का निर्माण शामिल है. इसके अलावा मोतिहारी-अमलेखगंज की सीमा पार पेट्रोलियम उत्पादों की पाइपलाइन के निर्माण पर भी चर्चा की गई. दोनों देशों ने बिराटनगर में एकीकृत चेक पोस्ट स्थापित करने पर भी बात की.

भारत और नेपाल के संबंध घनिष्ठ और मैत्रीपूर्ण

बता दें कि ये बैठक सितंबर 2016 में पीएम पुष्प कमल दहल प्रचंड के औचक भारत दौरे के बाद सेट अप की गई थी जिसमें द्विपक्षीय प्रॉजेक्ट्स को लागू किए जाने और उन्हें तय समय में पूरा किए जाने संबंधी प्रावधान था. माना जा रहा है कि इस बैठक से सीमा विवाद सुलझाने के लिए बातचीत का रास्ता भी खुलेगा.

एक इंटरव्यू के दौरान नेपाल के राजदूत निलांबर आचार्य ने कहा कि दोनों नेताओं के बीच टेलीफोन पर हुई वार्ता से साबित हुआ है कि भारत और नेपाल के बीच संबंध घनिष्ठ और मैत्रीपूर्ण हैं. दोनों पक्ष उचित समय में एक साथ बैठ सकते हैं और किसी भी समस्या का समाधान कर सकते हैं.

पीएम ओली ने फोन कर पीएम मोदी को दी थी बधाई

भारत के साथ संबंधों को लगातार बिगाड़ने के बाद नेपाल अब बातचीत के लिए बेकरार दिख रहा है. इसी कड़ी में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देने के लिए खुद नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली ने फोन किया था. प्रधानमंत्री ओली ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए पीएम मोदी को कहा कि इस संवाद को किसी के हार जीत और किसी के झुकने और किसी के अड़ने के रूप में नहीं लिया जाए. संबंधों में सुधार हो रहा है, दोनों तरफ से प्रयास हो रहे हैं. अब भारत में नेपाल के राजदूत ने कहा है कि इससे साबित होता है कि भारत और नेपाल से घनिष्ठ संबंध हैं और हम बैठकर सभी समस्याओं का समाधान निकाल सकते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 1 =