खतरे में छात्रों का भविष्य, विद्यालय को अस्थाई जेल बनाकर कैदियों को करते है क्वारंटीन

खतरे में छात्रों का भविष्य, विद्यालय को अस्थाई जेल बनाकर कैदियों को करते है क्वारंटीन

खतरे में छात्रों का भविष्य, विद्यालय को अस्थाई जेल बनाकर कैदियों को करते है क्वारंटीन

गाजीपुर : उत्तर प्रदेश के गाजीपुर से सटे छावनी लाइन स्थित आदर्श बौद्ध इंटर कालेज की अस्थाई जेल में तब्दीली से हज़ारों बच्चों के भविष्य पर प्रश्नचिंह लग गया है. प्रबंधक कई बार विद्यालय को खाली कराने की गुहार प्रशासन से लगा चुके हैं लेकिन उनकी तरफ से कोई भी असंतोषजनक प्रतिक्रिया या सुनवाई नहीं की रही है.

जिला प्रशासन ने विद्यालय का अधिग्रहण कर कोरोना काल में अस्थाई जेल बना दिया है. हर सप्ताह जेल जाने से पहले बंदियों को यहां क्वारंटीन किया जाता है. जिनके बाद उनकी कोरोना जांच होती है और निगेटिव आने के बाद ही उन्हें स्थाई जेल में भेजा जाता है. इसका साइड इफेक्ट यह है कि इसके चलते बच्चे जरूरी काम के लिए भी स्कूल नहीं आ पा रहे हैं. शिक्षकों को शासन का निर्देश है कि वह स्कूल में बैठकर जरुरी विभागीय कार्य निबटाएंगे लेकिन शिक्षक भी मजबूर हैं. साथ ही स्कूल के 3600 बच्चों का भविष्य अन्धकार में लटका हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *