पुतला दहन पर हो सकती है FIR! जानिए कहा बनेगा रावन का मंदिर

पुतला दहन पर हो सकती है FIR! जानिए कहा बनेगा रावन का मंदिर

पुतला दहन पर हो सकती है FIR! जानिए कहा बनेगा रावन का मंदिर

नई दिल्ली : इस दुशेहरा अगर आप रावन का पुतला जलाने की तैयारी कर रहें हैं तो सावधान हो जाए, आपके खिलाफ एफआईआर हो सकती है. अगर एफआईआर के बाद पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो मामला कोर्ट तक भी पहुंच सकता है.

दरअसल एडवोकेट ओमवीर सारस्वत का कहना है कि रावण महाराज का पुतला जलाए जाने से हमारी आस्था आहत होती है. हम रावण की पूजा करते हैं. उनके इस ऐलान से पुलिसप्रशासन सकते में आ गया था. बातचीत के बाद ओमवीर एफआईआर दर्ज न कराने की बात पर तो मान गए, लेकिन रावण जलाए जाने का विरोध जारी रहेगा.

रावण के गौत्र से हैं ओमवीर सारस्वत

मथुरा के रहने वाले एडवोकेट ओमवीर सारस्वत का कहना है कि हम लोग रावण महाराज के गौत्र से हैं. इसी आस्था के चलते हम उनकी पूजा करते हैं. वो एक महान ज्ञानी और तपस्वी थे. लेकिन कुछ लोग कुप्रथा के चलते हर साल रावण महाराज का पुतला दहन करते हैं. लेकिन पुतला दहन करने से क्या होता है और इसके पीछे मकसद क्या है, जब ऐसे लोगों से यह पूछो तो उनके पास कोई जवाब नहीं होता है. इसीलिए हमने एफआईआर दर्ज कराने का निर्णय लिया था.

ओमवीर सारस्वत ने बताया कि हम जल्द ही यमुना किनारे पर रावण महाराज के मंदिर की स्थापना करने जा रहे हैं. बेशक यह मंदिर छोटी सी जगह पर होगा, लेकिन यहां रोज रावण महाराज की पूजा होगी और यह एक शुरुआत होगी. इसके लिए लोगों से जनसंपर्क किया जा रहा है. ओमवीर के मुताबिक मथुरा में रावण महाराज को मानने वालों की संख्या भी हज़ारों में है.

रावण की भी पूजा अर्चना और महा आरती होगी

हम पुतला दहन का विरोध करते हैं. राम अगर भगवान हैं तो रावण भी महान हैं. इस संबंध में विगत वर्षों की भांति मथुरा में यमुना की तलहटी में यमुना किनारे भगवान महादेव के मंदिर में रावण की भी पूजा अर्चना और महा आरती होगी. और संसार भर के लोगों को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की जाएगी, जिससे इस कुरीति से बच सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *