पराली जलाने पर पांच लोगों के खिलाफ FIR, गिरेबान पकड़कर ले गई पुलिस

पराली जलाने पर पांच लोगों के खिलाफ FIR, गिरेबान पकड़कर ले गई पुलिस

पराली जलाने पर पांच लोगों के खिलाफ FIR, गिरेबान पकड़कर ले गई पुलिस

मैनपुरी : बढ़ते प्रदुषण को देखते हुए खेतों में अब पराली जलने पर सख्त कार्रवाई शुरू हो गई है. उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में परली जलाने के कई मामले सामने आ चुके हैं साथ ही उन पर एफआईआर भी दर्ज की गई हैं. लेकिन बीते दिन यानि गुरूवार को पहली बार मामले में पांच किसानों को जेल भेजा गया.

मामला मैनपुरी के किशनी क्षेत्र का है. गुरुवार को एसडीएम रामसकल मौर्य पुलिस बल और उप कृषि निदेशक डीवी सिंह के साथ क्षेत्र में चेकिंग के लिए निकले. इस दौरान पराली जलाने के पांच मामले सामने आए. किसान भूरे पुत्र राजेंद्र सिंह निवासी नगला अखे, राजेंद्र सिंह पुत्र कोमल सिंह निवासी पृथ्वीपुर, प्रदीप पाल पुत्र रतन सिंह निवासी उजागरपुर, उदयप्रताप पुत्र सोवरन सिंह और रामकैलाश पुत्र लखन सिंह निवासी अजीजपुर के खेत में पराली जलाई गई थी. मौके पर ही पुलिस ने पांचों किसानों को हिरासत में लेकर एसडीएम कोर्ट में पेश किया. यहां से एसडीएम ने उन्हें जेल भेज दिया. क्षेत्र के साथ-साथ पूरे जिले में इस बात की चर्चा है. क्योंकि पहली बार पराली जलाने के मामले में किसानों को जेल भेजा गया है.

पराली जलाने के मामले में एसडीएम किशनी रामसकल मौर्य के आदेश पर प्रभारी निरीक्षक थाना किशनी अजीत सिंह ने मौके से ही किसानों को हिरासत में ले लिया. वह किसानों को कॉलर पकड़कर खींचते हुए ले गए. बता दें कि पराली जलाने के मामले में पुलिस ने पांच किसानों को न्यायालय में पेश किया गया था. पुलिस कार्रवाई के आधार पर ही पांचों किसानों को जेल भेजा गया हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *