बिजली बकाया वसूली अभियान आज, जानिए क्या हो सकता है बकायेदारों के साथ

उत्तर प्रदेश का जिला लखनऊ में आज बिजली बकाया वसूली के लिए अभियान शुरू किया जाएगा। इस दौरान बैलेंस न जमा करने वालों की बिजली काटी जाएगी।

कब तक चलेगा ये अभियान और क्या है इसकी तैयारी 

प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं पावर कार्पोरेशन के अध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया है कि यह अभियान करीब 12 दिसंबर तक चलेगा। साथ ही  उन्होंने इसकी भी जानकारी दी है कि सभी विद्युत वितरण निगमों के अधिकारियों को विस्तृत दिशा-निर्देश भेजे गए हैं। अभियान के तहत बड़े बकायेदारों से वसूली पर खास जोर रहेगा। अभियान में वितरण खंड एवं उपखंड स्तर के सभी अधिकारी, अवर अभियंता एवं फील्ड कर्मचारी हिस्सा लेंगे।

क्या है इसका लक्ष्य 

प्रत्येक खंड के लिए न्यूनतम 250 बकायेदारों से प्रतिदिन वसूली का लक्ष्य तय किया गया है। पावर कार्पोरेशन प्रबंधन ने बताया है कि राजस्व वसूली बढ़ाकर बिजली व्यवस्था को और बेहतर करने के मकसद से अभियान चलाने का फैसला किया गया है। अरविंद कुमार ने बताया कि राजस्व वसूली बढ़ाने व उपभोक्ताओं को बिल भुगतान की सहूलियत के लिए आसान किस्त योजना लागू की गई है। इसके तहत 71 लाख उपभोक्ताओं को सुविधा प्रदान करने का लक्ष्य है।

पुलिस प्रवर्तन दल भी कर रहा है अभियानकर्ताओं का सहयोग
बिजली कंपनियों को भेजे गए निर्देशों में लिखा है कि सभी राजस्व संग्रह केंद्र, सीएससी काउंटर एवं अन्य राजस्व संग्रह सुविधायें सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक खुली रहेंगी।बकायेदारों के कनेक्शन काटने के अभियान में पुलिस प्रवर्तन दल भी सहयोग करेंगे।
काटे गए कनेक्शन की मॉनिटरिंग की व्यवस्था कराने की हिदायत देते हुए निर्देश दिया गया है कि अगर कटे हुए कनेक्शन पर बिजली आपूर्ति चलती पाई जाए तो मॉनिटरिंग के लिए लगाए गए संबंधित कार्मिक के खिलाफ कार्रवाई की जाए।