Dilip Kumar Passes Away : नहीं रहे ‘ट्रेजेडी किंग’, 98 साल की उम्र में का निधन

मुंबई। हिन्दी सिनेमा के दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार का बुधवार की सुबह निधन हो गया। ट्रेजेडी किंग का निधन 98 साल की उम्र में हुआ है। उन्होंने मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में अंतिम सांस ली है। वह काफी वक्त से बीमार चल रहे थे। दिलीप कुमार को शाम 5 बजे मुंबई के जुहू कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। दिलीप कुमार के निधन से पूरा देश शोक में हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, कई राज्यों के मुख्यमंत्री, बॉलीवुड के दिग्गजों ने दिलीप कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

इन दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करके अभिनेता दिलीप कुमार के निधन पर संवेदना व्यक्त की हैं। उन्होंने लिखा, “उन्हें पूरे उपमहाद्वीप में पसंद किया गया। उनका निधन एक युग का अंत है। दिलीप साहब भारत के दिल में हमेशा ज़िदा रहेंगे। उनके परिवार और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति संवेदना।”

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, दिलीप कुमार जी को एक सिनेमाई किंवदंती के रूप में याद किया जाएगा। उन्हें अद्वितीय प्रतिभा का आशीर्वाद प्राप्त था, जिसके कारण पीढ़ियों के दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए थे। उनका जाना हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए एक क्षति है। उनके परिवार, दोस्तों और असंख्य प्रशंसकों के प्रति संवेदना. श्रद्धांजलि।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, हिंदी फ़िल्म जगत के मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार जी का चले जाना बॉलीवुड के एक अध्याय की समाप्ति है। युसुफ़ साहब का शानदार अभिनय कला जगत में एक विश्वविद्यालय के समान था। वो हम सबके दिलों में ज़िंदा रहेंगे। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें। विनम्र श्रद्धांजलि

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा “ये देश है वीर जवानों का”, “अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं” जैसे गीतों को करोड़ों लोगों की जुबां तक पहुंचाने वाले और जीवन को अभिनय के जरिए पर्दे पर उकेरने वाले महान अभिनेता दिलीप कुमार जी का जाना सिनेमा के एक युग का अंत है। परिजनों एवं प्रियजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं।

वहीं हिंदी सिनेमा के महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा, ‘एक संस्थान चला गया…जब भी भारतीय सिनेमा का इतिहास लिखा जाएगा…वो हमेशा दिलीप कुमार से पहले और दिलीप कुमार के बाद होगा…मेरी दुआएं उनकी रूह को सुकून के लिए और उनके पर‍िवार को ताकत…इस नुकसान का दर्द उठाने के लिए…बहुत दुखी हूं।’

दिलीप कुमार का जन्म

दिलीप कुमार का जन्म पेशावर में 11 दिसंबर 1922 को हुआ। उनके पिता का नाम लाला गुलाम सरावर खान और मां का नाम आयशा बेगम था। उनके कुल 12 भाई-बहन हैं। उनके पिता फल बेचने थे। युसूफ खान ने देवलाली में स्कूलिंग की। वो राज कपूर के साथ बड़े हुए जो उनके पड़ोसी भी थे। बाद में दोनों ने फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *