मुख्य सचिव से मारपीट के मामले में CM केजरीवाल हुए बरी

नई दिल्ली। मुख्य सचिव से मारपीट के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बरी कर दिया गया है। उनके बरी होने की जानकारी, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दी है। वहीं सीएम केजरीवाल ने इसे सत्य की जीत बताया है। मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया, “दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल जी को मनगढ़ंत सीएस हमला मामले में कोर्ट ने बरी कर दिया। इसके बाद अरविंद केजरीवाल ने ट्वीटकर पर लिखा, सत्यमेव जयते।

प्रेस कॉन्फ्रेंस उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, आज सत्य की जीत का दिन है। दिल्ली की अदालत ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के खिलाफ उन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया, जिसमें तथाकथित सीएम मारपीट मामले में उन्होंने साजिश रची थी। आज अदालत ने कह दिया कि यह आरोप झूठे और बेबुनियाद थे। आज केस में अरविंद केजरीवाल ने बरी कर दिया।

मनीष सिसोदिया ने कहा, हम पहले दिन से कह रहे थे कि यह सब अरविंद केजरीवाल के खिलाफ षडयंत्र है, आज अदालत में भी यह साबित हो गया। दिल्ली की सरकार को गिराने की का षडयंत्र था। यह षडयंत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र, भारतीय जनता पार्टी और उनकी केंद्र सरकार के इशारे पर रचा गया था। उनके इशारे पर दिल्ली पुलिस ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मारपीट का एक झूठा मुकदमा दर्ज किया। इसके बाद उनके घर और दफ्चतर पर छापेमारी की गई। यह मुकदमा इतना झूठा था कि इस मामले में आज कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आरोप तय करने से भी मना कर दिया।

आगे उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल आज देश में सबसे लोकप्रिय चुने हुए मुख्यमंत्री हैं, इसीलिए बीजेपी, प्रधानमंत्री मोदी और केंद्र सरकार के इशारे पर यह षडयंत्र रचा गया। उनके खिलाफ फर्जी एफआईआर दर्ज करवाई गई। इसके लिए केंद्र सरकार का पूरा सिस्टम अरविंद केजरीवाल और उनकी सरकार के खिलाफ इस्तेमाल किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *