केरल में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले, दूसरी वेव का खतरा अभी बरकरार

New Delhi. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को देश में कोरोना स्थिति पर जानकारी दी। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देशभर में पिछले हफ़्ते रिपोर्ट हुए कोरोना वायरस के 69% मामले एक राज्य केरल से हैं। दूसरी वेव अभी ख़त्म नहीं हुई है। उन्होंन कहा कि अभी भी 42 ज़िले ऐसे हैं जहां कोरोना के प्रतिदिन 100 से ज़्यादा मामले रिपोर्ट होते हैं। केरल में एक लाख से ज़्यादा सक्रिय मामले हैं। महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में स​क्रिय मामले 10,000 से एक लाख के बीच हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि ये 9वां सप्ताह है जब देश में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 3 प्रतिशत से कम रहा है। देश में 38 ज़िलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 5-10 फिसदी के बीच है। वहीं, देश की व्यस्क आबादी के 54 फिसदी लोगों ने वैक्सीन की एक डोज़ लगवा ली है। देश की 16 प्रतिशत व्यस्क आबादी ने वैक्सीन की दोनों डोज़ प्राप्त कर ली हैं।

वैक्सीनेशन 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने आगे बताया कि सिक्किम, दादरा और नगर हवेली और हिमाचल प्रदेश ने अपनी शत प्रतिशत व्यस्क आबादी को वैक्सीन की पहली डोज़ दे दी है। मिज़ोरम, लक्षपद्वीप, दमन और द्वीप, लद्दाख, त्रिपुरा ने 85 फिसदी से ज़्यादा आबादी को वैक्सीन की पहली डोज़ लगा दी है। प्रत्येक देश अपनी जनसंख्या, अर्थव्यवस्था और सामाजिक व्यवस्था को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से काम करता है। हम इन उद्देश्यों की प्राप्ति करेंगे और ये देखेंगे ​कि वैक्सीन को अन्य देशों को देने का उचित समय कब होगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *