मुजफ्फरपुर केस: CBI का दावा- शेल्टर होम में नहीं हुई किसी लड़की की हत्या

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने अपनी रिपोर्ट दाखिल कर दी है। रिपोर्ट में सीबीआई का दावा है कि किसी लड़की की हत्या शेल्टर होम में नहीं हुई, जो कंकाल और हड्डियां मिलीं वो किन्हीं और बालिग लोगों की थीं। सीबीआई को जांच में हत्या का कोई सबूत नहीं मिला है, जिनकी हत्या होने का शक था, वो सभी 35 लड़कियां जीवित मिलीं हैं। अटॉर्नी जनरल ने कोर्ट को बताया कि सीबीआई जांच में साफ हुआ है कि किसी नाबालिग की शेल्टर होम में हत्या नहीं हुई है।

बता दें कि बिहार के 17 शेल्टर होम में यौन शोषण के मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने जांच पूरी करके रिपोर्ट सौंप दी है। सीबीआई ने 25 डीएम और 71 अफसरों पर कार्रवाई की सिफारिश की है। हालांकि, अफसरों का नाम सामने नहीं आया है। इस मामले में 14 जनवरी को कोर्ट फैसला सुना सकती है।

पिछले महीने दिल्ली की एक अदालत ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम दुष्कर्म मामले में फैसले को 14 जनवरी तक के लिए टाल दिया था। फैसले को विशेष पॉक्सो जज सौरभ कुलश्रेष्ठ के छुट्टी पर होने की वजह से टाला गया। मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर सहित 20 आरोपियों को लिंक जज के समक्ष पेश किया गया था।