Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

बरेली: आजकल से समय में क्या बड़ा, क्या बुढा, क्या बच्चा और क्या जवान हर कोई किसी न किसी प्रकार का नशा कर रहा है। ऐसा नही है की देश में नशे को लेकर कोई नियम-कानून नही है। देश में नशे को लेकर नियम तो है लेकिन इसका पालन कौन करता है यह सबसे बड़ा सवाल है। किसी भी प्रकार का नशा सेहत के लिए हानिकारक होता है लेकिन अगर नशे की सामग्री नकली हो तो वह जानलेवा भी हो सकती है। बीती शाम सोमवार को बरेली पुलिस ने नकली गुटखा फैक्ट्री की सूचना मिलने पर कारवाही करते हुए बरेली के सैनिक कॉलोनी इलाके में छापेमारी करते हुए नकली गुटखा फैक्ट्री का भंडा फोड़ा साथ ही करोड़ो का माल जप्त भी किया।

मामला उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के सैनिक कॉलोनी इलाके का हैं जहां दो भाईयों ने मिलकर ब्रांड गुटखा, पान मसाला और बीड़ी का नकली माल तैयार करके बरेली समेत आस-पास के बाजार में खपाना शुरू कर दिया। नकली गुटखा तो जानलेवा ही समझिए। गगन गुटखा के डिस्ट्रिब्यूटर को संदेह होने के बाद एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने मंगलवार को टीम गठित करके एक साथ सैनिक कॉलोनी, संजयनगर, एग्जीक्यूटिव क्लब रोड, गौसाइगौटिया पर छापामारी करवा दी। लाखों फर्जी रैपर, सुपाड़ी सुखाने की मशीन के साथ बड़े पैमाने पर तैयार नकली गुटखा, पान मसाला, केमिकल और बीड़ी का भंडारण पकड़ लिया। देर रात तक छापमारी की कार्रवाई जारी रही। पुलिस ने सचिन गुप्ता और नितीन गुप्ता के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है।

कोरोना के चलते बंद थी मैन्युफैक्चरिंग

Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

पुलिस ने बताया कि कोविड के समय में गुटखा बैन हो गया था। गगन कंपनी ने मैन्युफैक्चरिंग भी बंद कर दी। लेकिन अगस्त के महीने में मई और जून महीने का खराब हो चुका माल कंपनी के पास बरेली से वापस पहुंचा। डिस्ट्रिब्यूटर अमित भारद्वाज से गगन कंपनी के प्रतिनिधियों ने पूछा कि जब माल बना ही नहीं तो खराब माल की वापसी कैसे हो रही है। यही से पूरे मामले की शुरुआत हुई। छानबीन में सामने आया कि संजयनगर समेत चार जगह पर नकली माल तैयार किया जा रहा है। सोमवार रात को एसएसपी रोहित सिंह सजवाण तक नकली पान मसाला और गुटखा बनाए जाने के लिए चार टीमों को तैयार किया। चार जगह पर पुलिस की टीमें पहुंच गई। छापामारी होते देखकर कारोबारी अपने तीन बच्चों के साथ घर में ताला डालकर भाग निकला। देर रात बारादरी थाने की पुलिस ने एक बेटे और नौकर को उठा लिया।

सेल्समैन ने खोला नकली गुटखे का राज़

गगन कंपनी के सेल्समैन ने बताया कि उनके माल देने से पहले दुकानों पर डिलीवरी पहुंच रही है। जबकि कोविड के चलते लोग खरीद भी कम रहे हैं। एक सेल्समैन ने भेद खोला कि बारादरी के संजयनगर स्थित प्रिया ट्रेडर्स के यहां से उन्हें गुटखा मिलता है। उसने बताया कि इज्जतनगर के सैनिक कॉलोनी के शिव बिहार मुहल्ला गली नंबर आठ निवासी राकेश उसके मालिक है। उनके साथ उनके बेटे नितिन, सचिन और विपिन मिलकर काम करते है।

पुलिस के पहुंचने से पहले आरोपी हुए फ़रार

एसएसपी के निर्देश पर पुलिस पहले संजय नगर आशीष रॉयल पार्क के सामने स्थित गोदाम में छापेमारी करने पहुंची तो वहां पहले से गोदाम में ताला पड़ा था। जिसके बाद पुलिस दुर्गा नगर स्थित प्रिया ट्रेडर्स पर पहुंची और छापेमारी की तो वहां भी ताला पड़ा था। संदेह रहा कि पुलिस की सूचना लीक हुई थी। ठीक छापामारी से पहले हर जगह पर ताले पड़ गए थे। पूछताछ में पता चला कि यह गोदाम भी राकेश का है। जिसके बाद अमित के निशानदेही पर पुलिस ने बारादरी निमाड़ी मुहल्ले में व्यापारी मयंक गुप्ता के घर छापेमारी की और वहां फैक्ट्री पकड़ी। जहां दो मशीनों के जरिए गुटखे तैयार किए जाते थे। आरोपित ने मयंक का मकान किराये पर ले रखा था।

पुलिस से भिड़ी व्यापारी की पत्नी

Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

छापेमारी की कारवाही के दौरान पुलिस जब राकेश की तलाश में शिव विहार उसके घर पहुंची। जहां राकेश अपने तीन बेटों के साथ पहले ही भाग चुका था। इस दौरान राकेश की पत्नी सुनीता ने घर को अंदर से बंद कर लिया। करीब सवा घंटे उसने पुलिस को छकाया। जिसके बाद पुलिस किसी तरह घर के अंदर दाखिल हुई तो सुनीता पुलिस से ही भिड़ गई और देख लेने की धमकी देने लगी। महिला दारोगा के फटकारने पर वह शांत हुई।

जप्त किए करोड़ो के माल

Bareilly: पुलिस की बड़ी कामयाबी, गुटखा फैक्ट्री में छापेमारी कर जप्त किया करोड़ों का माल

पुलिस  घर मे पहुंची तो एक कमरे में ताला बंद था। अंदर से केमिकल की बदबू आ रही थी। पुलिस ने संगीत से चाबी मांगी तो उसने कहा नहीं है। लेकिन वहीं पलंग के तकिए के नीचे चाबी मिल गई। जिसके बाद पुलिस ने कमरा खोला नो नकली गुटखे में प्रयोग होने वाली नकली सुपारी और भारी मात्रा में पुलिस ने केमिकल बरामद किया। इस दौरान नकली बीड़ी भी पुलिस ने बरामद की।

अमित भारद्वाज ने बताया कि उनकी कंपनी का पांच क्विंटल रैपर मिला। इतने रैपर से करोड़ों का माल तैयार होता। तैयार माल भी बड़े पैमाने पर बरामद किया। सिर्फ निजी कंपनी को नहीं। आरोपित सरकार को भी करोड़ों का राजस्व चपत लगा रहे थे। तैयार माल उत्तराखंड तक सप्लाई हो रहा था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *