8वीं का छात्र बना शहर का सबसे नन्हा Entrepreneur, लोगों को ऐसे दिया रोजगार

8वीं का छात्र बना शहर का सबसे नन्हा Entrepreneur, लोगों को ऐसे दिया रोजगार

8वीं का छात्र बना शहर का सबसे नन्हा Entrepreneur, लोगों को ऐसे दिया रोजगार

गोरखपुर : उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में रहने वाले 14 वर्षीय अमर प्रजापति महज आठवीं कक्षा के छात्र हैं. लेकिन छोटे से अमर के बड़े-बड़े सपनों और कुछ नया करने के जज्बे ने उन्हें बुलंदियों के पहले पड़ाव तक पंहुचा दिया है. कोरोना वायरस के दौरान बंद स्कूलों के कारण घर में रह रहें अमर ने बल्ब बनाने कि ट्रेनिंग ली और अब छोटे पैमाने पर अपना व्यपास शुरू कर लिया.

एलईडी बल्ब निर्माण कंपनी चला रहें हैं अमर

कुछ ही दिनों में मिले अच्छे परिणाम से आज वह एलईडी बल्ब निर्माण कंपनी चला रहें हैं. अमर ने इतनी कम उम्र में रोजगार तो अपनाया ही, चार अन्य लोगों को भी काम दिया है. उसने अपनी कंपनी की एक वेबसाइट भी बनाई है और अब अपने उत्पाद को ऑनलाइन भी बेचने की योजना बना रहें हैं. सिविल लाइंस में रहने वाले रमेश कुमार प्रजापति गोरखपुर डेवलेपमेंट अथॉरिटी (गीडा) में कार्यरत हैं. तीन बच्चों में अमर उनका मंझला बेटा है. वह आरपीएम एकेडमी में 8वीं का छात्र है जो वैज्ञानिक बनना चाहते हैं. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया से काफी प्रभावित है. लॉकडाउन में जब स्कूल-कॉलेज बंद हुए तो उसकी पढ़ाई भी ठप हो हुई. ऐसे में उसने एलईडी बल्ब बनाने का प्रशिक्षण लेने की इच्छा जाहिर की, जिस पर पिता ने हामी भर दी.

ऑनलाइन क्लासेज के बाद प्रोडक्ट की तैयारी में जुट जाते हैं अमर

अमर ने कहा कि स्कूल अभी खुले नहीं हैं. इसलिए ऑनलाइन क्लासेज चल रही है जो 12 बजे तक खत्म हो जाती है. इसके बाद वह अपने प्रोडक्ट को तैयार करने में जुट जाता है. अमर की कंपनी जीवन प्रकाश के मैनेजर मंजेश कुमार शर्मा और कर्मचारी भावेश कुमार प्रजापति बताते हैं कि कोरोना काल में जहां रोजी-रोजगार की परेशानी थी. कंपनी में काम करने का मौका मिला और आज सबकी मेहनत से कंपनी का काम अच्‍छा चल रहा है. उन्‍हें रोजगार मिलने से उनका भी परिवार फल-फूल रहा है. वे इस कंपनी को काफी आगे ले जाना चाहते हैं. जिससे उनके प्रोडक्‍ट शहर से बाहर बाजार में भी जगह पा सकें.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *