3 वर्षीय मासूम से किया था दुष्कर्म, मिली मौत की सज़ा

 

सूरत की तीन वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को गुजरात हाईकोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है। इससे पहले जिला अदालत आरोपी को मौत की सजा सुना चुकी है। 22 साल के आरोपी अनिल यादव को गोडाडरा क्षेत्र में तीन साल की बच्‍ची की हत्या और दुष्कर्म के आरोप में दोषी ठहराया गया था।

पढ़िए पूरा मामला

14 अक्‍टूबर, 2018 की शाम को बच्‍ची गायब हो गई थी। परिवार ने पुलिस को इसकी सूचना दी, जिन्होंने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया। अगले दिन सुबह मासूम का शव उस इमारत के निचले तल पर मिला, जिसकी ऊपरी मंजिल पर वह अपने परिवार के साथ रहती थी।

पुलिस को बच्ची का शव एक प्लास्टिक बैग के अंदर मिला, जिसे पानी के कंटेनर के पीछे छुपाया गया था। यादव जिसके कमरे से बच्ची का शव मिला वह कमरे को बंद करके भाग गया था। शुरुआत में वह परिवार और पड़ोसियों के साथ मिलकर बच्ची को ढूंढने का नाटक कर रहा था।

बिहार के बक्‍सर जिले से किया गया था गिरफ्तार

आरोपी सूरत से भागकर बिहार स्थित अपने पैतृक गांव आ गया। उसने कमरे की चाबी को नर्मदा नदी में फेंक दिया। बिहार पुलिस की मदद से अपराध शाखा की सिटी पुलिस ने 19 अक्टूबर को बिहार में बक्सर जिले के मनिया गांव से उसे गिरफ्तार किया था।