MP में 20 साल की युवती का रेप, शराब पीकर दोस्त देते रहें पहरा

MP में 20 साल की युवती का रेप, शराब पीकर दोस्त दे रहें थे पहरा

MP में 20 साल की युवती का रेप, शराब पीकर दोस्त देते रहें पहरा

भोपाल : मध्य प्रदेश के भोपाल से एक 20 वर्षीय लड़की को जबरन बंधक बनाकर रेप का मामला सामने आया है. इस मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर तीन आरोपिओं को गिरफ्तार कर लिया है.

एक्टिवा लौटाने आई थी युवती

दरअसल, एक्टिवा लौटाने आई एक युवती को आरोपियों ने जबरन कमरे में बंधक बना लिया था. इसके बाद मुख्य आरोपी ने उसके साथ मारपीट कर दुष्कर्म किया, जबकि उसके 2 साथी कमरे के बाहर शराब पीकर पहरा देते रहे. घटना को लेकर कांग्रेस ने विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया है. एएसपी दिनेश कौशल के अनुसार रात पीड़िता के माता-पिता पुलिस थाने आए थे. उन्होंने बताया कि उनकी 20 साल की बेटी एक दुकान पर काम करती है वह घर नहीं लौटी है. जिसके बाद पुलिस ने सभी जगहों पर तलाश की. जिस दुकान पर लड़की काम करती थी, पुलिस वहां पहुंची तो उन्होंने बताया कि वह एक्टिव लौटाने किसी देवी सिंह के यहां गई है.

पीड़िता ने बताया कि वह 35 साल के देवी सिंह को पहचानती है. काम के सिलसिले में शनिवार को वह देवी से एक्टिवा ले गई थी. रात करीब 9:30 बजे वह देवी सिंह को निर्माणाधीन मकान पर गाड़ी लौटाने गई थी. उसके साथ दो और दोस्त वहां पर थे. वह उन्हें नहीं जानती थी. देवी ने कहा कि उसके पैसे गिर गए हैं. अंधेरे में दिख नहीं रहे हैं. टॉर्च दिखा दो. जैसे ही दरवाजे के पास टॉर्च दिखाने लगी तो उसके दोनों दोस्तों ने मुझे पकड़ लिया.

आरोपी की जमकर हुई पिटाई

वहीँ दूसरी तरफ पुलिस से पहले ही स्थानीय लोगों ने आरोपी को ढूंढ निकाला. लड़की सुबह बैरागढ़ के 12 नंबर कैंपस के एक निर्माणाधीन मकान में बदहवास हालत में बंधक बनी मिली. साथ ही कई जगह पर चोटों के निशान भी थे. यह देखकर लोगों का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने आरोपी की जमकर पिटाई की. जिसके बाद आरोपी देवी सिंह को पुलिस के हवाले कर दिया गया. घायल अवस्था में उसे हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया.

एएसपी कौशल ने बताया कि पीड़िता दलित नहीं, घुमक्कड़ जाति से संबंधित है. अगर वह दलित श्रेणी में आती है तो आरोपियों के खिलाफ अन्य धाराएं भी बढ़ाई जाएंगी. फिलहाल तीनों आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर हिरासत में ले लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *